Congress leader demanded Namaz at Charminar: Congress leader from Hyderabad spewed poison

चारमीनार पर नमाज की मांग की कांग्रेस नेता ने: हैदराबाद के कांग्रेस नेता ने उगला जहर, कहा- हम देश को हिंदू राष्ट्र नहीं बनने देंगे

कांग्रेस नेता ने की चारमीनार पर नमाज की मांग: मथुरा के ज्ञानवापी के बाद देश में हैदराबाद के चारमीनार का मुद्दा भी उठा है। मुस्लिम समाज के लोगों ने चारमीनार पर नमाज पढ़ने के अधिकार की मांग की है।

कांग्रेस नेता राशिद खान ने की चारमीनार पर नमाज पढ़ने की मांग: देश में ज्ञानवापी, मथुरा और कुतुब मीनार का मुद्दा चल रहा है। इसी बीच अब हैदराबाद की चारमीनार का मामला भी शुरू हो गया है। चारमीनार पर नमाज अदा करने की मांग को लेकर मुस्लिम वर्ग के लोगों ने हस्ताक्षर अभियान शुरू कर दिया है। अभियान का नेतृत्व कर रहे कांग्रेस नेता राशिद खान ने कहा कि वह तब तक चैन से नहीं बैठेंगे जब तक कि उन्हें चारमीनार को ‘मुक्त’ नहीं कर दिया जाता।

चारमीनार एएसआई द्वारा संरक्षित एक विरासत है

इसे भी पढ़ें..  ज्ञानवापी मामले में 1991 के एक्ट का जिक्र तो बहुत है, लेकिन उसमें भी एक दिक्कत है...जानिए क्या है अपवाद नियम

आपको बता दें कि हैदराबाद के पुराने इलाके में चारमीनार स्मारक बना हुआ है। यह निजाम काल के दौरान बनाया गया था। वर्तमान में यह एएसआई द्वारा संरक्षित एक विरासत स्मारक है। ज्ञानवापी और मथुरा मुद्दों में हिंदू पक्ष की ओर से की जा रही मांग को देखते हुए अब हैदराबाद की मुस्लिम समाज भी नमाज की मांग के साथ इकट्ठा हो रहे है। इस अभियान का नेतृत्व कांग्रेस की तेलंगाना प्रदेश कांग्रेस कमेटी के सचिव राशिद खान कर रहे हैं।

कांग्रेस नेता ने शुरू किया नमाज का प्रचार

उन्होंने चारमीनार में नमाज अदा करने की मांग को लेकर हैदराबाद में हस्ताक्षर अभियान शुरू किया है। राशिद खान ने लोगों को भड़काते हुए हिंदू समाज और कोर्ट के खिलाफ कई अपमानजनक बातें कहीं। राशिद खान ने कहा, ‘ज्ञानवापी में कानून-व्यवस्था का कोई मुद्दा नहीं होगा, आपको क्लीन चिट मिल जाएगी। मैं कोर्ट की बात से सहमत भी नहीं हूं। मैं कहता हूं कि मस्जिद भी आबाद करो। ये सभी हिंदू एक सोच के साथ आगे बढ़ रहे हैं। उन्हें हिंदू राष्ट्र बनाना। मैं इसे अपने जूते के नीचे रखता हूं। हम ऐसा नहीं होने देंगे।

इसे भी पढ़ें..  हिजाब-लाउडस्पीकर पर विवादित बयान देने वाली रुबीना बोलीं- अगर ज्ञानवापी मंदिर है तो...

हिंदुओं के खिलाफ की गई विवादित टिप्पणी

राशिद खान यहीं नहीं रुके। उन्होंने कहा, ‘हम यहां कानून में बदलाव नहीं होने देंगे। आप मिट जाओगे। आज मथुरा में, ज्ञानवापी में, वे हर जगह को निशाना बना रहे हैं। बीजेपी-आरएसएस चाहते हैं कि महंगाई, अर्थव्यवस्था की बात करने के बजाय हिंदू मस्जिदें करते रहे। हम शांति चाहते हैं। राशिद खान हर जंग लड़ने को तैयार हैं। जब तक मैं चार मीनार को खाली नहीं करा देता, मैं ईंट से ईंट बजा दूंगा।’