Deep Yatra from Lakhisarai to Bihar, will end in Ayodhya after four months, lamps will be taken from Hindu houses of 38 districts

बिहार लखीसराय से बिहार भ्रमण पर निकली दीप यात्रा, चार महीने बाद अयोध्या में होगी खत्म, 38 जिलों के हिंदू घरों से लिए जाएंगे दीए

देश में समान नागरिक कानून और जनसंख्या नियंत्रण कानून की मांग को लेकर बिहार के लखीसराय से बिहार दीप यात्रा शुरू की गई है। यह यात्रा बिहार और यूपी के 38 जिलों से गुजरती हुई अयोध्या पहुंचेगी।

बिहार के लखीसराय से बिहार दीप यात्रा की शुरुआत की गई है

देश में जनसंख्या नियंत्रण कानून और समान नागरिक संहिता कानून करने की मांग को लेकर बिहार के लखीसराय से बिहार दीप यात्रा की शुरुआत की गई है। यह दीप यात्रा लखीसराय से शुरू होने के बाद बिहार के सभी 38 जिलों में भ्रमण करते हुए दीपावली के अवसर पर अयोध्या पहुंचेगी। सोमवार को ई-रिक्शा से शुरू हुई दीप यात्रा को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया गया है। दीप यात्रा के मुख्य यात्री रामप्रवेश सिंह हैं, जो ई-रिक्शा का खुद से परिचालन कर गंतव्य तक पहुंचेंगे। 

इसे भी पढ़ें..  Bihar: अग्निपथ आंदोलन में नक्सली कनेक्शन का खुलासा, लखीसराय स्टेशन पर ट्रेन फूंकने में थिंकटैंक का हाथ

लखीसराय के झिनौरा गांव से निकली दीप यात्रा को अजीत भरतीया और राजबल्लभ यादव ने हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। बताया जा रहा है कि यह यात्रा अगले चार महीनों तक जारी रहेगी और 24 नवंबर को अयोध्या पहुंचेगी। दीप यात्रा का उद्देश्य बिहार के तमाम 38 जिलों में परिभ्रमण कर हिंदू परिवारों से सहयोग के तौर पर एक-एक दीप लिए जाएंगे। इन दीपों के संग्रह के बाद इसे अयोध्या में एक साथ प्रज्वलित किया जाएगा। 

Ram mandir

मुख्य यात्री रामप्रवेश सिंह ने कहा कि वर्तमान समय में देश में जनसंख्या नियंत्रण कानून का आना बेहद आवश्यक हो गया है। अत्यधिक जनसंख्या विकट परिस्थितियों को उत्पन्न करने का कारक है। देश में समान नागरिक संहिता कानून भी लागू हो यह भी आवश्यक है। इसके लिए समय-समय पर हिंदू संगठनों की स्तर से मांग भी होती रही है। इधर शहर के छोटी दुर्गा स्थान के पास दीप यात्रा रथ का स्वागत किया गया। विजय सिंह, रामनारायण यादव, साधुशरण यादव आदि ने स्वागत किया।

इसे भी पढ़ें..  लखीसराय : दोहरे हत्याकांड में दो अपराधियों के घर कुर्की जब्ती