Inflation hit, GST will have to be paid before eating milk and curd

महंगाई की मार, दूध-दही खाने से पहले देना होगा जीएसटी

संवाद सहयोगी, लखीसराय : घरेलू गैस, खाने का तेल, अनाज, सब्जी पहले से ही दोगुने कीमत पर बिक रहे थे। अब केंद्र सरकार ने कई खाद्य वस्तुओं पर जीएसटी की नई दरें लागू कर दी है। इससे आम लोगों को महंगाई की मार अब और झेलनी पड़ेगी। खास कर पैकेट और लेबल वाले खाद्य पदार्थों की खरीदारी करने पर लोगों को पहले पांच फीसद जीएसटी चुकाना पड़ेगा। इससे पहले कोई टैक्स नहीं लगता था।

घरेलू गैस खाने का तेल अनाज सब्जी पहले से ही दोगुने कीमत पर बिक रहे थे। अब केंद्र सरकार ने कई खाद्य वस्तुओं पर जीएसटी की नई दरें लागू कर दी है।

अब आम लोगों को दही, मक्कन, घी, पनीर खाने से पहले सरकार को पांच फीसद जीएसटी देना होगा। जीएसटी की नई दरें लागू होने से माध्यम वर्ग के लोगों पर महंगाई की दोहरी मार पड़ेगी। केंद्र सरकार के नए आदेश के अनुसार बैंक ग्राहकों को बैंक से नया चेक बुक लेने पर 18 फीसद जीएसटी देना होगा। 1,000 रुपये से कम किराए वाले होटल के कमरों पर भी अब ग्राहकों को 12 फीसद जीएसटी देना पड़ेगा।

इसे भी पढ़ें..  अशोकधाम लखीसराय : बिहार का बाबाधाम, सावन में रोज आते हैं हजारों शिवभक्‍त, विधानसभा अध्‍यक्ष विजय सिन्‍हा पहुंचे

एलईडी लाइट, एलइडी लैंप, ब्लेड, पेपर, कैंची, पेंसिल, शार्पनर आदि सामग्री पर अब 18 फीसद जीएसटी देना होगा। इससे पहले इन सामग्रियों पर 12 फीसद जीएसटी लगता था। यानी अब छह फीसद अतिरिक्त जीएसटी देना पड़ेगा।