CWG 2022 : जेरेमी लालरिनुंगा ने वेटलिफ्टिंग में भारत को दिलाया गोल्ड मेडल, बनाया रिकॉर्ड और भी 4 मैडल, जानिए

CWG 2022 : जेरेमी लालरिनुंगा ने वेटलिफ्टिंग में भारत को दिलाया गोल्ड मेडल, बनाया रिकॉर्ड और भी 4 मैडल, जानिए किसको मिला

तीसरे दिन भारत ने अपना दूसरा स्वर्ण पदक जीता। जेरेमी लालरिनुंगा ने भारोत्तोलन में शानदार प्रदर्शन के साथ स्वर्ण पदक जीता। उन्होंने स्नैच में 140 किलो वजन उठाया। जबकि क्लीन एंड जर्क में 160 किलो वजन उठाया। जेरेमी लालरिनुंगा ने स्नैच में 140 किलो वजन उठाकर कीर्तिमान स्थापित किया है। पुरुषों के 67 किग्रा वर्ग के फाइनल में वेपावा नेवो आयन दूसरे स्थान पर रही।

जेरेमी लालरिनुंगा ने वेटलिफ्टिंग में भारत को दिलाया गोल्ड मेडल

दूसरे दिन भारत का खाता चांदी के साथ खुला और चांदी के साथ समाप्त हुआ. इनमें एक सोना-चांदी भी मिला है। मीराबाई चानू ने बर्मिंघम राष्ट्रमंडल खेलों में भारत को पहला स्वर्ण पदक दिलाया। महिला भारोत्तोलक मीराबाई चानू ने 49 किग्रा भार वर्ग में 201 किग्रा भार उठाकर प्रथम स्थान हासिल किया।

हाल ही का ट्वीट :-

उन्होंने लगातार दूसरे बर्मिंघम राष्ट्रमंडल खेलों में स्वर्ण पदक जीता। वहीं भारत के 21 साल के बाहुबली एक्टर महादेव सरगर ने जबरदस्त दमखम दिखाते हुए सिल्वर मेडल अपने नाम किया. अगर वह क्लीन एंड जर्क के दूसरे दौर में चोटिल नहीं होते तो पदक स्वर्ण हो सकता था। वहीं, गुरुराजा पुजारी ने 61 किग्रा वर्ग में कांस्य पदक जीता। भारत ने भी दूसरे दिन बैडमिंटन में जीत के साथ शुरुआत की। मिश्रित स्पर्धा में लक्ष्य सेन ने आसानी से अपना मुकाबला जीत लिया। जानिए दूसरे दिन भारत कहां जीता और कहां हारा…

इसे भी पढ़ें..  CWG 2022 : भारत ने जीता मेडल ; कुश्ती, TT, एथलेटिक्स और बैडमिंटन में 2018 से बेहतर

वेटलिफ्टिंग: मीराबाई चानू गोल्ड, बिंदिया रानी देवी और संकेत रजत और गुरुराजा पुजारी ने कांस्य जीता

बिंदिया रानी देवी– सिल्वर बिंदिया रानी देवी ने भारत को चौथा पदक दिलाया है. उन्होंने महिला भारोत्तोलन के 55 किलोग्राम वर्ग में रजत पदक जीता। उन्होंने स्नैच में 86 किग्रा और क्लीन एंड जर्क में 116 किग्रा के साथ कुल 202 किग्रा भार उठाया। नाइजीरिया के आदिजात ओलारिनोय ने 203 किग्रा भार उठाकर स्वर्ण पदक जीता। इंग्लैंड के फ्रायर मोरो ने कांस्य पदक जीता।

भारोत्तोलक मीराबाई चानू-गोल्ड
बर्मिंघम राष्ट्रमंडल खेलों के दूसरे दिन भारत की महिला भारोत्तोलक मीराबाई चानू ने 49 किग्रा में स्वर्ण पदक जीतकर देश का नाम रोशन किया। मीराबाई चानू ने स्नैच राउंड में अपने प्रतिद्वंद्वियों को शानदार प्रदर्शन से मात दी। मीराबाई चानू ने अपने पहले प्रयास में 84 किलो वजन उठाने के बाद दूसरे प्रयास में 88 किलो वजन उठाया। बर्मिंघम राष्ट्रमंडल खेलों में महिलाओं के भारोत्तोलन में भी यह रिकॉर्ड है। किसी भी भारोत्तोलक ने 88 किलो वजन नहीं उठाया है।

इसे भी पढ़ें..  पिता सचिन तेंदुलकर के पैसे बर्बाद कर रही हैं सारा, सोशल मीडिया पर लोग कर रहे हैं ट्रोल

संकेत महादेव सरगर-सिल्वर

संकेत महादेव सरगर ने बर्मिंघम राष्ट्रमंडल खेलों संकेत ने अपने तीसरे प्रयास में 113 किग्रा भार उठाकर अपने वर्ग में शीर्ष स्थान हासिल किया है। 55 किग्रा वर्ग में संकेत ने पहले प्रयास में 107 किग्रा, दूसरे प्रयास में 111 किग्रा और तीसरे प्रयास में 113 किग्रा भार उठाया। ऐसा लग रहा था कि वह गोल्ड जीत जाएगा। लेकिन क्लीन एंड जर्क राउंड में पहले प्रयास में ही वह चोटिल हो गए। उन्होंने कुल 248 किलो वजन उठाया। वह सिर्फ 1 किलो से सोना चूक गए। महाराष्ट्र के सांगली की रहने वाली संगत महादेव सरगर ने पिछले साल दिसंबर में हुई कॉमनवेल्थ चैंपियनशिप में नेशनल रिकॉर्ड के साथ गोल्ड मेडल जीता था.

इसे भी पढ़ें..  T20 World Cup से पहले गुजराती खिलाड़ी को मिलेगी जिम्मेदारी KL Rahul को बड़ा झटका

गुरुराजा पुजारी-कांस्य

गुरुराजा पुजारी ने पुरुषों के 61 किलोग्राम भार वर्ग में देश को कांस्य पदक दिलाया है। गुरुराजा पुजारी ने स्नैच में 118 किग्रा और क्लीन एंड जर्क में 151 किग्रा भार उठाया। इस तरह वह कुल 269 किग्रा के साथ तीसरे नंबर पर रहे। इस इवेंट का गोल्ड मेडल मलेशिया के अजनील बिदिन ने जीता। उन्होंने कुल 285 किग्रा भार उठाया, जबकि पापुआ न्यू गिनी के मोरे बारू ने 273 किग्रा के साथ रजत पदक हासिल किया।

बैडमिंटन : लक्ष्य सेन ने जीत के साथ शुरुआत की मिश्रित टीम स्पर्धा में लक्ष्य सेन ने उम्मीद के मुताबिक विजयी प्रदर्शन के साथ शुरुआत की। लक्ष्य सेन ने मिश्रित टीम स्पर्धा का पुरुष एकल मैच जीता। लक्ष्य सेन ने श्रीलंकाई खिलाड़ी को 21-18, 21-5 से हराया। भारत ने श्रीलंका पर 2-0 की बढ़त बना ली है