Sidhu Moosewala death: A conspiracy to kill Sidhu Moosewala was hatched in Delhi's Tihar Jail... the gangster had made a plan by calling abroad!

सिद्धू मूस वाला मौत: दिल्ली की तिहाड़ जेल में रची गई थी सिद्धू मूसेवाला की हत्या की साजिश… गैंगस्टर ने विदेश बुलाकर बनाया था प्लान!

सिद्धू मूस वाला मौत: सिद्धू मूसेवाला की दिनदहाड़े बेरहमी से हत्या कर दी गई। पुलिस के मुताबिक, 30 राउंड फायरिंग की गई। लॉरेंस बिश्नोई गिरोह के सदस्य लक्की ने हत्या की जिम्मेदारी ली है। लेकिन अब इस हत्याकांड में एक नया खुलासा हुआ है. सिद्धू की हत्या कहीं और नहीं बल्कि दिल्ली की तिहाड़ जेल में रची गई थी। दरअसल लॉरेंस बिश्नोई ने गोल्डी बरार से कई बार विदेश में वर्चुअल नंबर के जरिए बात की थी।

पंजाब पुलिस तिहाड़ जेल में बंद लॉरेंस बिश्नोई से पूछताछ करेगी। लॉरेंस को पंजाब पुलिस रिमांड पर ले सकती है। लॉरेंस बिश्नोई तिहाड़ की जेल नंबर 8 हाई सिक्योरिटी जेल में बंद है। वह जेल से ही गैंग को ऑपरेट करता है।

इसे भी पढ़ें..  सलमान खान को मारने के लिए लॉरेंस के शूटरों ने बना रखा था प्लान 'बी', फार्महाउस के गार्डों से भी कर ली थी दोस्ती : सूत्र

पंजाब पुलिस तिहाड़ जेल में बंद लॉरेंस बिश्नोई से पूछताछ करेगी। लॉरेंस को पंजाब पुलिस रिमांड पर ले सकती है। लॉरेंस बिश्नोई तिहाड़ की जेल नंबर 8 हाई सिक्योरिटी जेल में बंद है। वह जेल से ही गैंग को ऑपरेट करता है।

लॉरेंस बिश्नोई के गिरोह के गुर्गों की संख्या करीब 700 है, जिसमें पेशेवर निशानेबाज भी शामिल हैं। बिश्नोई शराब माफिया से रंगदारी वसूल करता है। लॉरेंस और उसका गिरोह पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, दिल्ली और हिमाचल प्रदेश समेत अन्य देशों में फैला हुआ है। लॉरेंस का क्राइम पार्टनर कुख्यात गैंगस्टर संदीप उर्फ ​​काला जत्थेदी है, जिस पर एक समय 5 लाख का इनाम था। जठेदी को दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने गिरफ्तार किया था।

इसे भी पढ़ें..  कुचामन दौरे पर थे नागौर के जिलाधिकारी पीयूष सामरिया, सांप्रदायिक तनाव पर कही ये बात

सिद्धू को लगातार मिल रही थी धमकियां

मूसेवाला के पिता बलकौर सिंह ने भी दावा किया है कि उनके बेटे को गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई के गिरोह से धमकी और फिरौती की मांग मिल रही थी। पिता के मुताबिक, मूसेवाला को फिरौती के लिए कई बार धमकी भरे फोन आए थे। पिता बलकौर सिंह ने बताया कि धमकियों के चलते परिवार ने बुलेटप्रूफ फॉर्च्यूनर कार भी खरीदी थी. लेकिन रविवार को सिद्धू अपने दो दोस्तों (गुरविंदर सिंह और गुरप्रीत सिंह) के साथ थार कार से कहीं निकल गया था। पिता ने बताया कि सिद्धू बुलेटप्रूफ कार और गुम्मन दोनों घर पर छोड़ गए थे।

इसे भी पढ़ें..  इंटरव्यू में पूछे गए सवाल: ऐसा कौन सा देश है जहां सिर्फ लड़कियां ही शराब पी सकती हैं? जानिए इंटरव्यू में पूछे गए ऐसे ही सवालों के जवाब

इस वजह से निशाना थे मुसावाला?

कनाडा के रहने वाले गैंगस्टर गोल्डी बराड़ ने सिद्धू मूसेवाला की हत्या की जिम्मेदारी ली है। सूत्रों की माने तो सिद्धू मूसेवाला बिश्नोई गैंग के खेमे को सपोर्ट कर रहे थे. इसी वजह से लॉरेंस बिश्नोई गैंग का निशाना सिद्धू मूसेवाला था।