The daughter is young, the father marries the daughter, and then in front of the mother's eyes…

बेटी के जवान होते है पिता कर लेता है बेटी से शादी, और फिर मां की आँखों के सामने ही…

आपको दुनिया भर में कई तरह के रीति-रिवाजों और अनैतिक प्रथाओं के बारे में जानकारी होगी। ऐसी ही एक कुप्रथा के बारे में हम आपको बताने वाले है। बदकिस्मती से इस प्रथा के कारण कई महिलाओं का जीवन नर्क के समान बन चूका है है। बांग्लादेश की मंडी जनजाति के बीच एक ऐसा रिवाज है जो आपको हैरान कर देने वाला है। एक पिता जो जन्म से लेकर अपनी बेटी के बड़े होने तक उसकी देखभाल करता है और बाद में उसका पति बन जाता है। सुनकर थोड़ा अजीब सा लगा न पर ये सच्चाई है.

बेटी के जवान होते है पिता कर लेता है बेटी से शादी

आपको जानकारी के लिए बता दें कि मंडी जनजाति में जब कोई मर्द कम उम्र की विधवा औरत से शादी करता है। तब से ही ये पक्का हो जाता है कि उस महिला की बेटी आगे चलकर उस शख्स के साथ शादी करेगी। जब भी इस समुदाय में कोई पुरुष कम उम्र की विधवा से शादी करता है तभी ये बात फाइनल कर दी जाती है कि उसकी सौतेली बेटी उसकी पत्नी बनेगी। जिस पुरुष को बच्ची छोटी उम्र में पिता कहकर बुलाती है और बाद में वह उसका पति बन जाता है। भले ही सुनने में अजीब है पर इस जनजाति में ऐसा रीती रिवाज सालों से चला आ रहा है।

इसे भी पढ़ें..  बंगाल दुर्गापूजा VIDEO : जलपाईगुड़ी में दुर्गा विसर्जन के दौरान नदी में अचानक आई बाढ़, आठ की मौत, कई लापता

इस कुप्रथा के लिए पिता का सौतेला होना आवश्यक है। जब एक विधवा से दूसरा पुरुष विवाह करता है। वह उस महिला की पहली शादी से हुई बच्ची से आगे चलकर विवाह रचाता है। इसके पीछे इस जनजाति के लोगो का मानना है कि कम आयु का पति अपनी पत्नी और बेटी दोनों को ज्यादा टाइम तक सुरक्षा देता है, उनकी हिफाजत करता है।

​इस बुरी प्रथा के चाल चलने के कारण से यहां मंडी जनजाति की कई लड़कियों का जीवन नरक बन चुका है। जिस इंसान को वो बच्चियां बचपन में पिता कहकर बुलाती थी। उसी इंसान को बाद में उन्हें पति मानना पड़ता है। इस जनजाति की औरतें इस कुप्रथा को स्वीकार करने के लिए विवश है।

इसे भी पढ़ें..  'दिल को छू लेने वाला पल': रतन टाटा ने की ताज कर्मचारी की तारीफ, जिसने आवारा कुत्ते के साथ अपना छाता साझा किया