AKhilesh Yadav: उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने दावा किया है कि 2024 के लोकसभा

UP Politics: क्या 2024 के चुनाव में फेल हो जाएगा BJP का पूरा प्लान? अखिलेश यादव ने किया बड़ा दावा

Lok Sabha Election 2024

Lok Sabha Election 2024: अगले साल होने वाले लोकसभा चुनाव में अब करीब 400 दिन बचे हैं और सभी राजनीतिक दलों ने अपनी तैयारियां तेज कर दी है. मैनपुरी लोकसभा सीट पर हुए उपचुनाव में जीत के बाद समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) एक्शन मोड में आ गए हैं और लगातार लोगों के बीच पहुंच रहे हैं. अब उन्होंने भारतीय जनता पार्टी (BJP) पर निशाना साधा हैऔर कहा है कि भाजपा जिस तरीके से दिन गिनने लगी है, उसे देखते हुए आज मैं यह कहना चाहूंगा कि उसके पास अब केवल 398 दिन बचे हैं.

बीजेपी का ‘टारगेट-80’ प्लान हो सकता है फेल: अखिलेश

अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने बीजेपी (BJP) निशाना साधते हुए कहा, ‘भाजपा इस बार हो सकता है कि उत्तर प्रदेश की सभी 80 लोकसभा सीटों पर हार जाए. जो पार्टी यह कहती हो कि हम बरसों सत्ता में रहेंगे, वो अब 400 दिन की बात कर रही है. और अब तो दो दिन और बीत गए हैं यानी सिर्फ 398 दिन बचे हैं.’ अखिलेश ने कहा कि भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष को उत्तर प्रदेश के कम से कम दो मेडिकल कॉलेज का दौरा करना चाहिए, जिनका उन्होंने खुद शिलान्यास किया था और तब वह खुद समझ जाएंगे कि उन्हें कितनी सीटों पर जीत हासिल होने वाली है.

इसे भी पढ़ें..  नीतीश कैबिनेट ने 2000 यूनिट बिजली फ्री देने का किया ऐलान, जानें सरकार ने किसे दिया फायदा

पीएम मोदी ने बीजेपी की बैठक किया था 400 दिनों का जिक्र

बता दें कि हाल ही में दिल्ली में बीजेपी की दो दिवसीय राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक का आयोजन हुआ था, जिसमें 17 जनवरी को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) 400 दिनों का जिक्र किया था. पीएम मोदी ने कहा था, ‘2024 के लोकसभा चुनाव में करीब 400 दिन बचे हैं. इसलिए, पार्टी के सभी नेताओं और कार्यकर्ताओं को पूरे समर्पण के साथ समाज के हर वर्ग की सेवा में जुट जाना चाहिए.’

अखिलेश यादव ने नीतीश कुमार का किया सपोर्ट

सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का समर्थन किया है और जातिगत जनगणना की तारीफ की. अखिलेश ने कहा, ‘जातीय जनगणना की मांग आज ही नहीं उठ रही. अंग्रेजों ने 1931 में समझा था कि जातीय जनगणना होनी चाहिए. जातियों को संविधान के अधिकार तब ही मिल सकते हैं, जब उनके लोगों की संख्या पता हो.’ उन्होंने कहा, ‘समाजवादियों का हमेशा यही मानना रहा है और पिछले चुनावों में मैंने भी कहा था कि सपा की सरकार बनी तो तीन माह में जातीय जनगणना की जाएगी. मुझे खुशी है कि नीतीश कुमार जी इस काम को आगे बढ़ा रहे हैं और मैं इस बाबत उन्हें बधाई देता हूं.’

इसे भी पढ़ें..  पश्चिम बंगाल राशन मॉडल को देशभर में लागू करने की मांग को लेकर PM Modi के भाई प्रह्लाद मोदी ने धरना दिया
देश के अरबपति उद्योगपति की इस बेटी ने पार की बोल्डनेस की हदें, तस्वीरें देख रह जाएंगे हैरान जरा से कपड़ों में शुभमन गिल की बहन ने बढ़ाया इंटरनेट का पारा! Photos देख हो जाएंगे फैन टीम इंडिया के ‘मिस्टर 360’ की सुपरहिट लव स्टोरी, 5 साल डेट कर रचाई थी शादी? आज इस समय सात फेरे लेंगे केएल राहुल-अथिया मिनी स्कर्ट पहनकर भोजपुरी एक्ट्रेस नम्रता मल्ला ने मचाया बवाल, इंटरनेट पर धूम मचा रहीं ये तस्वीरें