इतिहास की सबसे खूबसूरत महिला को क्यों मिली वेश्या बनने की सजा

इतिहास की सबसे खूबसूरत महिला को क्यों मिली वेश्या बनने की सजा जान कर हैरान हो जाओगे..

दोस्तों पृथ्वी पर नारी को सुंदरता की देवी माना जाता है. लेकिन शरीर से सुंदर होने के साथ उसके गुण भी सुंदर होने चाहिए भगवान ने सभी स्त्रियों को एक समान बनाया है. बाद में सभी स्त्रियां अपने कर्मों के अनुसार बदल जाती है शरीर की सुंदरता से क्या होता हैं, मन सुंदर होना चाहिए जबकि यह तर्क पूरी तरह सही नहीं हैं. मन की सुंदरता की पहली सीढ़ी आपके शरीर की सुंदरता हैं. वैसे तो हर औरत अपने आप में सुंदर होती हैं.

इतिहास की सबसे खूबसूरत महिला को क्यों मिली वेश्या बनने की सजा जान कर हैरान हो जाओगे..

भारतीय इतिहास की बात करें तो आम्रपाली एक ऐसी महिला थीं, जो बेहद खूबसूरत थीं. लेकिन खूबसूरती की वजह से आम्रपाली की जिंदगी नर्क जैसी हो गई इतिहासकार बताते हैं,कि उसकी बड़ी बड़ी आंखे,चेहरे की सुंदर काया, और शरीर की आकर्षक बनावट को जो भी देखता था वो उसमें ही खो जाता था। उस स्त्री को देखकर ऐसा लगता था, कि ईश्वर ने उसे बड़ी फुर्सत से बनाया हैं.

इतिहास की सबसे खूबसूरत महिला को क्यों मिली वेश्या

हर नारी की खूबसूरती उसके व्यक्तित्व में चार चांद लगा देती हैं. मगर आम्रपाली के साथ आखिर ऐसा क्या हुआ कि उसकी सुदंरता ही उसके लिए अभिशाप बन कर रहे गई उसे अपनी खूबसूरती की बहुत बड़ी कीमत चुकानी पड़ी आम्रपाली को नगर वधू यानि की वेश्या बनने के लिए मजबूर होना पड़ा

इसे भी पढ़ें..  झाड़-फूंक के बहाने मौलवी ने महिला से दुष्कर्म करने वाले वीडियो हो रहा वायरल
इतिहास की सबसे खूबसूरत महिला को क्यों मिली वेश्या

आम्रपाली इतनी खूबसूरत थी कि वैशाली का हर पुरुष उसे अपनी दुल्हन बनाने के लिए बेताब रहने लगा. लोगों में आम्रपाली के लिए दीवानगी इतनी बढ़ गई थी कि वो उसको पाने के लिए किसी भी हद तक जा सकते थे. लोगो की इस दीवानगी को देखकर उसके माता—पिता घबरा गए क्योंकि वो जानते थे किआम्रपाली की शादी किसी एक से कराई गई तो बाकी के लोग उनके दुश्मन बन जाएंगे और उसे पाने के लिए वैशाली में खून खराबा हो जाएगा.

इतिहास की सबसे खूबसूरत महिला को क्यों मिली वेश्या

इसी समस्या का हल खोजने के लिए एक दिन वैशाली में एक सभा आयोजित की गई इस सभा में उपस्थित सभी पुरुष आम्रपाली से विवाह करना चाहते थे. जिससे कोई फैसला करना बहुत कठिन हो रहा था. अंत में जो फैसला आया उसकी कल्पना खुद आम्रपाली ने सपने में भी नही की थी. सभा में सर्वसम्मति के साथ आम्रपाली को नगरवधू यानि की वेश्या घोषित कर दिया गया.

इसे भी पढ़ें..  ‘मैं एक दिन कपड़े ही नहीं पहनूंगी’ क्यों बोलीं Uorfi Javed? हेटर्स को दिया करारा जवाब